कोरोना वायरस के बचाव व जरूरमंदों की मदद के लिए “मुख्यमंत्री सहायता कोष” के लिए बढ़ने लगे हाँथ,खुलकर मिल रहा सहयोग

रायपुर(खबर वारियर)प्रदेश में कोरोना वायरस से बचाव व जरूरतमंदों के लिए हर वर्ग के लोग खुलकर सामने आने लगे है।

मंत्रिमंडल के सदस्यों के अलावा,विभागीय अधिकारियों,कर्मचारियों,सांथ-सांथ कर्मचारी संगठनों ने भी मुख्यमंत्री सहायता कोष में  खुलकर अपनी सहयोग राशि देने का निर्णय ले रहे हैं।

मुख्यमंत्री सहायता कोष में मुख्यरूप जिन लोगो,विभगों,संगठनों ने सहायता देने की घोषणा की है वे इस प्रकार हैं:-

विधान सभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत एवं कोरबा सांसद ज्योत्सना चरण दास महंत ने एक-एक माह का अपना वेतन दिया है।

गृह मंत्री व पुलिस विभाग के समस्त अधिकारी-कर्मचारी,इन्होंने अपने एक माह का वेतन सहायता कोह में देने का वळण किआ है।

आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने एक माह और विभाग के अधिकारी- कर्मचारी ने दिया वेतन का कुछ हिस्सा मुख्यमंत्री सहायता कोष में

राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल ने अपना तीन माह का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने की घोषणा की

नगरीय प्रशासन मंत्री डॉक्टर शिव कुमार डहरिया ने कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम सहायता के लिए अपने एक महीने का वेतन ‘मुख्यमंत्री सहायता कोष’ में जमा करने किया ऐलान।

मंत्रिमंडल के सदस्यों विधायकों सांसदों, जनप्रतिनिधियों , समाज सेवी संस्थाओ एवं समर्थ लोगों को सहायता करने की अपील भी की।

विधायक सत्यनारायण शर्मा ने भी एक माह का वेतन देने का किया ऐलान

भारतीय वन सेवा के अधिकारी मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करेंगे एक माह का वेतन,लगभग 75 लाख रुपये मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करने का निर्णय।

छत्तीसगढ़ के सभी शासकीय अधिकारी-कर्मचारी अपना एक दिन का वेतन देंगे मुख्यमंत्री सहायता कोष में,छत्तीसगढ़ शासकीय अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर आवश्यक कार्यवाही का किया अनुरोध।

मुख्यमंत्री राहत कोष में  छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन द्वारा दिया जा रहा एक दिन का वेतन

शालेय शिक्षाकर्मी संघ के शिक्षक एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने का निर्णय लिया है।

कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी के सांथ अन्य साथियों ने भी सहयोग की घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.