संभावित तीसरी लहर के लिए भी तैयार है कृति कोविड केयर सेंटर -. बृजमोहन अग्रवाल

कृति कोविड केयर सेंटर में सेवा देने वाले कोरोना वारियर्स का हुआ सम्मान

रायपुर(khabar warrior)- काईट कॉलेज नरदहा रायपुर में कृति कोविड केयर सेंटर (नि:शुल्क) 18 अप्रैल, 2021 से संचालित हैl यहाँ से 310 से ज़्यादा मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। डिस्चार्ज हो कर घर जारहे सभी मरीजों को 10 दिन की दवाईयों की किट के साथ पोस्ट-कोविड चिकित्सकीय सलाह का भी एक डॉक्यूमेंट उपलब्ध कराया गया है।

कृति कोविड केयर सेंटर (निःशुल्क) में आज कोविड सेंटर में फ्रंटलाइन में सेवा देने वाले कोरोना वारियर्स का सम्मान समारोह का आयोजन किया गया । कार्यक्रम के मंच में आर एसएस के छत्तीसगढ़ प्रान्त के प्रान्त प्रचारक  प्रेमशंकर जी सिदार , वरिष्ठ समाजसेवी रामजीलाल अग्रवाल, पूर्व मंत्री व विधायक बृजमोहन अग्रवाल , सांसद सुनील सोनी, रामप्रताप सिंह , डॉ कमलेस्वर अग्रवाल , डॉ अशोक त्रिपाठी , डॉ गंभीर सिंग उपस्थित थे ।

कृति कोविड- केयर सेंटर के द्वारा सभी अतिथियों का श्रीफल एवं साल देकर सम्मान किया गया वही सेंटर में सेवा देने वाले सभी डॉक्टरों , पैरामेडिकल स्टाफ नर्स वार्ड बॉय , स्वीपर , गार्ड , एम्बुलेंस ड्राइवर सहित सभी का स्मृति चिन्ह व उपहार देकर सम्मान किया गया ।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने कहा की जरूरत पड़ी तो कृति कोविड- सेंटर निशुल्क संभावित कोरोना के तीसरी लहर के लिए भी तैय्यार है । उन्होंने कहा कि सेवा भाव मानवता को लक्ष्य बनाकर यह सेंटर ऐसे समय में प्रारंभ किया गया जब प्रदेश में एक एक बेड के लिए ऑक्सीजन के एक एक सिलेंडर के लिए मारामारी चल रही थी , मेरे पास भी देर रात से लेकर 24 घंटे लोगों के फोन आते थे कि हमें बेड दिलवा दीजिए सारे प्रयासों के बाद मैं भी लोगों को सहयोग कर पाने में अपने आप को असहाय पाने लगा था ।

तभी मैंने यह तय किया कि एक अच्छा निशुल्क कोविड-19 केयर सेंटर की स्थापना किया जाना चाहिए और मैंने समाजसेवी व डॉक्टरों से चर्चा कर अल्प समय में ही 7 दिन के अंदर ही इस सेंटर की स्थापना की गई । और यह तय किया गया कि हमारे सेंटर तक जो भी कोविड-19 के मरीज आएंगे हम उन्हें किसी भी स्थिति में वापस नहीं करेंगे । उन्हें भर्ती कर इस्टैबलिश करने का प्रयास करेंगे और जरूरत पड़ी तो उन्हें अच्छे से अच्छे हॉस्पिटल में ले जाकर उनका इलाज करवाएंगे और हमारे सेंटर ने यह कर भी दिखाया 25 से अधिक मरीजों को जो अत्यंत गंभीर थे उन्हें एस्टेबलाइस कर बड़े हॉस्पिटलों में भर्ती करवाया गया ।

जिसमें से अनेकों मरीज का खर्च सेंटर ने वहन किया है । वही अनेक बड़े हॉस्पिटल में भर्ती मरीज जिन्हें आर्थिक समस्या थी ऐसे 23 मरीज बड़े हॉस्पिटलों से डिस्चार्ज होकर कृति सेंटर आये और सभी के सभी स्वस्थ होकर घर को गए । यह एक छोटा सा प्रयास था पर आप सब ने जो सहयोग व हिम्मत दी है उसी के बल पर इस काम को भी सफलतापूर्वक कर दिखाया ।

अग्रवाल ने कहा कि अगर यदि जरूरत पड़ी तो तीसरी लहर की आशंकाओं पर भी कृति कोविड केयर सेंटर ने तैयारी चालू कर दी है। बाल-रोग विशेषज्ञों (Pediatricians) की सलाह पर प्रदेश की जरूरत मंद जनता को कृति सेंटर जरूरत पड़ने पर व्यवस्थाएं उपलब्ध कराने के लिए भी पूरी तरह तैयार है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचारक प्रेम सिंह सिदार ने अपने संबोधन में कहा मानव सेवा से बड़ा कोई धर्म नही है । कोरोना के इस काल में जिस जिस ने भी मरीजो की सेवा की है ,उनका योगदान ईश्वरीय तुल्य है । सांसद सुनील सोनी ने कहा की इस सेंटर ने मरीजो की जो सेवा की है उनकी जितनी तारीफ की जावे कम है । आज इस सेंटर की चर्चा पूरे प्रदेश में है । इस सेंटर से प्रेरणा लेकर ही प्रदेश में अनेक संस्थाओं ने इस दिशा में कदम उठाकर सेंटर खोलने का प्रयास किया है। वरिष्ठ समाजसेवी रामजीलाल अग्रवाल ,ने भी अपना आर्शीवचन सेंटर व वहा उपस्थित लोगो को दिया ।

कृति ग्रुप के डायरेक्टर अभिषेक अग्रवाल ने जानकारी देते हुआ बताया की यहां कुल 200 बेड है, जिसमें 60 ऑक्सीजन बेड हैं। 50 बेड में ऑक्सीजन देने के लिए पृथक से ऑक्सीजन पाइप लाइन लगाई गई है और 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों की सुविधा हैl

शहर के बड़े-बड़े अस्पतालों में भी भर्ती मरीज़ भी फ़ोन करके कृति सेंटर में एडमिशन लिया है और स्वस्थ होकर घर लौटे । यह सेंटर के लिए एक बड़ी संतुष्टि का कारण है। सेंटर में 45 ऑक्सीजन बेड्स में कांटेक्टलेस मॉनिटरिंग सिस्टम(डोज़ी) लगाया गया है, .जिसके माध्यम से मरीज की ऑक्सीजन सैचुरेशन, ब्लड प्रेशर, हार्ट रेट, रेस्पिरेशन रेट आदि सीधे डॉक्टर्स के कंप्यूटर और मोबाइल में दिख रहे हैं। इससे मरीजों की जानकारी 24 घंटे डॉक्टरों को मिल रही है और इसके आधार पर उनका उपचार किया गया ।

सेंटर में डॉ. कमलेश अग्रवाल, डॉ. अखिलेश दुबे, डॉ जे.पी. शर्मा, डॉ. शैलेष खंडेलवाल, डॉ अशोक त्रिपाठी , जी के नेतृत्व में डॉकटरों की टीम लगातार मरीजों की देखरेख किया । वही डॉ. गंभीर सिंह, डॉ. विकास अग्रवाल, डॉ. गिरीश अग्रवाल, डॉ. ऋषि अग्रवाल, डॉ. सुरेंद्र शुक्ला, डॉ. अजय अग्रवाल, डॉ. नितिन जैन, डॉ ललित निहाल, डॉ मनोज अग्रवाल, डॉ. शुभकीर्ती अग्रवाल, डॉ. तन्मय अग्रवाल, डॉ. नेहा खेतान, नियमित अपनी सेवाए दी ।

हर डॉक्टर 5-5 मरीजों से स्वयं बातचीत कर उनको काउंसलिंग करते रहे । मरीजो की जिज्ञासाओं को शांत कर उनकी हिम्मत बढ़ाते रहैं। प्रतिदिन शाम 4:00 से 5:00 बजे डॉक्टर्स की टीम मरीजों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर उनका हाल जानते व जनकी जिज्ञासाओं को शांत करते । यह वीडियो कांफ्रेंस आम जनता के लिए भी कोविड संबंधित किसी भी चिकित्सीय सलाह के लिए खुली है।

डॉ अंकित खंडेलवाल और डॉ गुलशन कटारिया के नेतृत्व में 8 डॉक्टरों की टीम, 25 नर्सिंग स्टाफ, पर्याप्त वार्ड बॉय और अन्य स्टाफ की टीम मरीजों से सीधे संपर्क में रह कर 24 घंटे सेवा दे रही हैं। सभी मरीजों का परीक्षण हर 4 घंटे में किया जाता है और ऑक्सीजन वाले मरीजों की जांच प्रति घंटे की जाती रही है ।

मरीजों के लिए भांप की मशीन और नेबुलाइस (Nebulize) करने और बुडामेत इन्हेलर (Budamet Inhaler) जैसी व्यवस्थाओं के साथ कोविड उपचार की आवश्यक दवाइयां भी उपलब्ध रही ।

ब्लड टेस्ट और सी टी स्कैन , एक्सरे की सुविधा गंगा डायग्नोस्टिक सेंटर के माध्यम से मरीजो को नि:शुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। मरीजों को सेंटर में लाने-लेजाने के लिए निशुल्क एंबुलेंस की व्यवस्था भी रही । मरीजो को निशुल्क दिन में 2 बार भोजन, 2 बार नाश्ता, दूध, काढ़ा, और फल उपलब्ध कराया गया ।

मरीजों की मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए सेंटर में प्रतिदिन योग-प्राणायाम प्रशिक्षक मरीजों को ट्रेनिंग दिया गया । और मोटिवेशनल कॉउंसेलर्स की टीम काम कर रही थी।

मरीजों के एडमिशन, डिस्चार्ज, शिफ्टिंग, इन्वेंटरी, साफ-सफाई, भोजन व्यवस्था, ऑक्सीजन सप्लाई, आदि व्यवस्थाओं के लिए विभिन्न वर्गों एवं समाज के 50 से अधिक कोरोना वारियर्स सेवा कार्य में लगे रहे आज सभी का सम्मान किया गया ।

सेंटर की सारी व्यवस्था में विजय अग्रवाल, मनमोहन अग्रवाल, अशोक अग्रवाल, सुभाष अग्रवाल, अभिषेक अग्रवाल, आदित्य अग्रवाल, सुमित श्रीवास्तव, चिमनलाल अग्रवाल, रजत जैन, परीक्षित दम्माणी, आशीष थारवानी, साकेत तुलस्यान, सुमित डिगानिया, राहुल डीगानिया, आकाश लूथरा, तुषार चोपड़ा, शैलेश अग्रवाल, दिव्यम अग्रवाल, व काइट कॉलेज के स्टाफ से नीरज देशमुख, अरविन्द यादव एवं अन्य कई लोग लगे हुए हैं।

यह सेंटर मानवता चैरिटेबल एंड वेलफेयर ट्रस्ट, अग्रवाल समाज, भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ, तेरापंथ प्रोफेशनल समाज, सेवा भारती एवं सर्व समाज के सहयोग से संचालित किया गया ।

कृति कोविड केयर सेंटर से स्वस्थ होकर जाने वाले मरीजों एवं उनके परिवारों के प्रशंसा के दो शब्द सेंटर में काम करने वाले सभी लोगों को और बेहतर कार्य करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। यही सेंटर का प्रयास है। सेंटर में मिलने वाली सभी सुविधा निःशुल्क था ।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शांति बड़रिया महेश कोचर चंद्रकांत बाबरिया राजेंद्र शुक्ला कमल गोलछा राजकुमार शुक्ला देवेंद्र अग्रवाल अजय शुक्ला अरुण लूथरा चंद्रकांत बाबरिया अनूप वर्मा सुरेंद्र छाबड़ा मोहन एंटी संजय शर्मा गिरधारी खंडेलवाल खंडेलवाल रामकृष्ण धीवर जी स्वामी अजय किरण अवस्थी किरोड़ीमल अग्रवाल सुभाष अग्रवाल मुकेश पंजवानी नीलेश शुक्ला सहित वरिष्ठ जन उपस्थित थे।