इंद्रावती भवन में 30 जून तक आंदोलन स्थगित

नवा रायपुर(खबर वारियर)इंद्रावती भवन में कर्मचारियों की समस्याओं के लिए संघर्षरत राजपत्रित अधिकारी संघ,कर्मचारी संघ, शासकीय संयुक्त कर्मचारी संघ, वाहन चालक संघ, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ, अनियमित कर्मचारी संघ ने एक सांथ मिलकर विभिन्न मांगो को लेकर लामबंद हो गये है।सभी संगठन मिलकर संचालनालयीन (विभागाध्यक्ष) कर्मचारी – अधिकारी संयुक्त मोर्चा का गठन किया है।

नव गठित संयुक्त मोर्चा ने संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि विभागाध्यक्ष भवन में व्याप्त समस्याओं एवं कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं को लेकर समय समय पर जो भी आंदोलन होंगे उसमे सभी संगठन सांथ मिलकर काम करेंगे।

बैठक में सभी संगठन के प्रमुख पदाधिकारियों को शामिल कर कोर कमेटी का गठन किया गया है।इस कमेटी के माध्यम से इंद्रावती भवन में किसी भी तरह के आयोजन को अंतिम रूप दिया जायेगा।

कमेटी की आपात बैठक मेे छत्तीसगढ़ शासन वित्त विभाग द्वारा वर्ष 2020 एवं 2021 के वेतनवृद्वि रोकने के आदेश का प्रतिकार करते हुए प्रदेश में 28 मई को सभी जिलों में आंदोलन कर कलेक्टरों के माध्यम से मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव को प्रेषित् मांग पत्र के परिप्रेक्ष्य में 04 जून गुरूवार को संध्या मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से उनके निवास में भेंट कर शासन द्वारा जारी उक्त आदेष को कर्मचारी हित में वापस लेने हेतु चर्चा हुई।

प्रतिनिधि मंडल को मुख्यमंत्री के सकारात्मक पहल करने के आश्वासन पर विश्वास व्यक्त करते हुए सर्व सम्मति से आंदोलन को 30 जून तक स्थगित रखने का निर्णय लिया गया।इसे देखते हुए इंद्रावती भवन में कोर कमेटी ने आंदोलन 30 जून तक स्थगित करने का निर्णय लिया गया।

बैठक में मुख्यमंत्री से कोरोनावायरस संक्रमण के रोकथाम में लगे शासकीय सेवकों के असामयिक मृत्यु होने पर राजस्थान सरकार की भांति छत्तीसगढ़ में भी अनुग्रह राशि 50 लाख देने की मांग का समर्थन किया गया।

उक्त बैठक में राजपत्रित अधिकारी संघ के अध्यक्ष कमल वर्मा,विभागाध्यक्ष कर्मचारी संघ के मुख्य संरक्षक सी. एल. शर्मा,महामंत्री पुरूषोत्तम पमनानी,संयुक्त कर्मचारी संघ के कार्यकारी अध्यक्ष अमोद श्रीवास्तव, सत्येन्द्र देवाॅगन ,नंदलाल चौधरी,आलोक वशिष्ठ,चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुरेश ढीढी, वाहन चालक संघ के अध्यक्ष मो. सलीम,अनियमित कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अनिल देवांगन,भोला पटेल, आदि शामिल हुए।