कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे की उज्जैन से गिरफ्तारी पर कांग्रेस ने उठाया सवाल, आरपी सिंह ने गृह मंत्री से पूछा- यह संयोग है, या प्रयोग है, या सत्ता का दुरुपयोग…..

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार

रायपुर(khabarwarrrior)कानपुर में पिछले हफ्ते आठ पुलिसकर्मियों को घेरकर बेरहमी से हत्या करने के आरोपी कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को उज्जैन में गिरफ्तार कर लिया गया है। वह मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकाल के दर्शन के लिए आया था। उसे सबसे पहले महाकाल मंदिर के गार्ड ने पहचाना और उसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन पुलिस को बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया,

‘जिनको लगता है की महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धूल जाएँगे उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं। हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख्श्ने वाली नहीं है…

पिछले कुछ दिनों से पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए हरियाणा और दिल्ली में दबिश दे रही थी। यूपी पुलिस विकास दुबे के पांच साथियों को एनकाउंटर में ढेर कर चुकी है। वहीं कई साथियों को गिरफ्तार कर चुकी है। विकास दुबे के दो और साथी प्रभात मिश्रा व बउआ दुबे गुरुवार सुबह पुलिस मुठभेड़ में मारे गए।

कुख्यात आरोपी विकास दुबे मामले में सियासत हुई तेज़….

कॉंग्रेसी नेता आर पी सिंह ने मध्यप्रदेश के गृहमंत्री पर लगाया गम्भीर आरोप…

कहा– उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में कानपुर के प्रभारी थे नरोत्तम मिश्रा  और अब कानपुर का ही कुख्यात हत्यारा मध्यप्रदेश में आकर सरेंडर करता है… यह संयोग है, या प्रयोग है, या सत्ता का दुरुपयोग है… कॉन्ग्रेस इस मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग करती है…