स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए सरकार ने किए गाइडलाइन जारी

दिल्ली(खबर वारियर)हर साल की तरह इस साल भी स्वतंत्रता दिवस समारोह भव्यता, उल्लास और उत्साह के साथ मनाया जाएगा। हालांकि कोरोना महामारी के मद्देनजर स्वतंत्रता दिवस से जुड़े कार्यक्रमों में निवारक उपायों को मानना और उन्हें लागू करना जरूरी होगा, जिसमें मास्क पहनना, 2 गज की दूरी बनाए रखना, ज्यादा संख्या में लोगों को इकट्ठा करने से परहेज करना और और कमजोर वर्ग यानी ज्यादा बुजुर्गों को ऐसे आयोजन में शरीक ना होने की हिदायत देना जैसे निर्देशों का पालन करना जरूरी होगा।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस संबंध में जरूरी दिशानिर्देश जारी किए हैं।

राज्यों से यह भी कहा गया है की स्वतंत्रता दिवस पर होने वाले कार्यक्रमों में कोरोना योद्धाओं, मसलन डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मी और स्वच्छताकर्मियों को आमंत्रित कर उनके योगदान को सराहा जाए।इसके साथ ही कोरोना की जंग जीत कर आए लोगों को भी कार्यक्रमों में आमंत्रित किया जा सकता है।

गृह मंत्रालय ने यह भी कहा है कि राज्यों की राजधानी के अलावा जिले, ब्लाक और पंचायतों में होने वाले कार्यक्रमों के दौरान इसी तरह कोरोना योद्धाओं के योगदान को याद करने के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए।

दिशा निर्देश में यह भी कहा गया है कि कार्यक्रमों का आयोजन बड़े पैमाने पर हो सकता है, लेकिन भीड़ इकट्ठी करने के बजाए प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करते हुए डिजिटल या ऑनलाइन तरीके से इसके प्रसार की कोशिश होनी चाहिए। वेबकास्ट के जरिए कार्यक्रम को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाया जा सकता है।

दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 15 अगस्त को लालकिले की प्राचीर से राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे। ध्वजारोहण और राष्ट्रीय गान के पश्चात प्रधानमंत्री राष्ट्र को संबोधित भी करेंगे।