जिजीविषा टीम ने 1 महीने में बालोद के युवाओं को दिलाये 1100 जॉब,सीएम बघेल ने दी बधाई

भेंट मुलाकात के दौरान प्रोजेक्ट जिजीविषा पर मुख्यमंत्री ने जताई प्रसन्नता, कहा रोजगार सृजन सबसे अहम कार्य,

8000 से 16 हजार रुपये का आरंभिक पैकेज,

-पूरे प्रदेश भर में नियोक्ताओं से किया सम्पर्क, 35 कंपनियों ने दिया जॉब,

रायपुर (खबर वारियर )कोरोना काल में अनेक लोग बेरोजगार हो गए थे और कलेक्टर बालोद के जनदर्शन में बड़ी संख्या में बेरोजगारों के आवेदन आ रहे थे। इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोगों के रोजगार सृजन के लिए जिला प्रशासन को निर्देशित किया था। इसे देखते हुए कलेक्टर  गौरव सिंह ने मेगा एंप्लॉयमेंट जेनरेशन कार्यक्रम का आयोजन किया। इसके लिए उन्होंने 2 लिंक तैयार किए। इसमें प्रदेशभर के नियोक्ताओं और रोजगार चाहने वालों को आमंत्रित किया गया। इसमें 35 कंपनियों ने हिस्सा लिया। साथ ही 2000 लोगों ने रोजगार के लिए आवेदन दिया। रोजगार के लिए उन लोगों को भी आमंत्रित किया गया जो पहले कभी रोजगार में थे या जिनका कौशल संवर्धन हो चुका है इसमें कामयाबी मिली और 1 महीने के भीतर ही हुनरमंद 11 सौ लोगों को रोजगार दिया जा चुका है।रोजगार प्रदान करने वाली कंपनियों में कोटक महिंद्रा जैसी बड़ी कंपनियां है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बालोद जिला में भेंट-मुलाकात के दौरान रोजगार सृजन की इस पहल की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि नियोक्ताओं को कुशल हुनरमंद लोगों की जरूरत होती है और हुनरमंद लोगों को रोजगार की जरूरत होती है। इस तरह के मेगा प्लेसमेंट इनीशिएटिव से बड़ा फायदा मिलता है,इसके लिए कलेक्टर बालोद गौरव सिंह, जिजीविषा टीम लीडर विकास देशमुख सहित पूरी टीम को बहुत बधाई देता हूं।

मुख्यमंत्री ने जिजीविषा मिशन से प्लेसमेंट में आये युवाओं को भी बहुत बधाई दी।