कोरोना वैक्सीन हाजिर हो! लालकिले से एलान करना है!!

(आलेख : बादल सरोज) (खबर वारियर)– कोरोना के टीके को 15 अगस्त से पहले जिल्लेइलाही के…

बोधघाट : कॉर्पोरेट मुनाफे के लिए आदिवासी विनाश की परियोजना

आलेख : संजय पराते  ✍ ———————— 40 सालों से डिब्बे में बंद बोधघाट परियोजना को कांग्रेस सरकार…

जब देश में इंटरनेट ही सुचारू रूप से काम नहीं कर रहा है तो ऑनलाइन स्टडीज और डिजिटल पेमेंट कैसे हो पाएंगी? जवाब दे सरकार – प्रकाशपुंज पांडेय

रायपुर(khabarwarrior)समाजसेवी और राजनीतिक विश्लेषक प्रकाशपुन्ज पाण्डेय ने मीडिया के माध्यम से देश की जनता और सरकार…

“बूंदों की बारात”

होमेन्द्र देशमुख :🖊️🖊️ ——————– ‘बूंद‘ बताओ कहां चली किसकी प्यास बुझाने किसको चली भिगाने किस को…

रिकॉर्ड विफलता का बरस : अनलॉक होती महामारी

आलेख : बादल सरोज, मौतों के बीच जश्न मनाना भी इवेंट मैनेजमेंट का एक हिस्सा है,…

आखिर इंसान इतना निष्ठुर कैसे हो सकता है?क्या हममें इन्सानियत नहीं बची है?

प्रकाशपुंज पांडेय✍ ———————– केरल में साइलेंट वैली जंगल में हथिनी को पटाखे से भरा हुआ अन्नानास…

लॉकडाउन पर एक नज़र

 प्रकाशपुंज पांडेय🖍️🖍️ मैं आपको मार्च से थोड़ा पहले दिसंबर 2019 में ले चलता हूं जब चीन…

‘मानसून’ अब के बरस तू झूम के आना- मेरे मजदूर अब फिर बनेंगे किसान

होमेन्द्र देशमुख,भोपाल🖍️🖍️ ————————––—— मानसून सुनते ही मन मचल-मचल जाता है | बारिश का सीजन मेरा फेवरेट…

“अजीत” मरते नहीं, अमर हो जाते हैं…

प्रकाशपुंज पांडेय,🖍️🖍️ —-–——————- “अजीत प्रमोद जोगी”, एक ऐसा नाम है जो कभी मर नहीं सकता, वे…

जब जोगी ने कहा – आवव भजिया खालेवव, गरम गरम निकले हे…

होमेन्द्र देशमुख, भोपाल🖊️🖊️ सन 2000 के पहले और कुछ सालों बाद तक अजीत जोगी का 10 जनपथ…