जिला शिक्षाधिकारी के वक्तब्य से आक्रोशित शिक्षक समाज ने कहा : नहीं सहेंगे ये अपमान

राजनांदगांव(खबर वारियर)छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा,दुर्ग संभाग प्रभारी विनोद गुप्ता, राजनांदगांव जिला अध्यक्ष गोपी वर्मा,प्रवक्ता देवेंद्र साहू सहित संगठन के समस्त पदाधिकारियों ने कहा की शिक्षक का अपमान करने वाले जिला शिक्षाधिकारी बालोद के ऊपर तत्काल पाबन्दी लगाई जावे तथा लोकतन्त्र में शासकीय दादागिरी हम बर्दाश्त नहीं करेंगे।

जब तक शिक्षकों को अपमान करने वाले को दण्डित नही किया जाता तब तक यही स्तिथि बनी  रहती है,ऐसे अधिकारी शिक्षा विभाग का बेड़ा गर्क करने में लगा है।

इसी प्रकार की घटना छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में देखने को मिली जहाँ जिला के सबसे बड़े शिक्षा अधिकारी अपने मातहत अधिकारी को फटकार लगाते हुए शिक्षकों को हराम की वेतन देने तक की बात कह डाली। बालोद जिले के सबसे बड़े अधिकारी के कथित बयान से शिक्षकों में रोष व्याप्त है।

छत्तीसगढ़ के समस्त शिक्षक संगठनों ने निंदा करते हुए गलत व्यवहार बताया और कहा की जब तक शिक्षकों को अपमान करने वालों को दण्डित नही किया जाता तब तक संघर्ष जारी रहेगा। शिक्षक संगठनो ने इस बयान की निंदा कर माफ़ी मांगने की बात कही। इस बात को लेकर सभी नें चिन्ता व्यक्त की कि अधिकारी की दमनकारी नीति पर विरोध नहीं किया गया, तो यह उत्पीड़न और भी बढ़ेगा।शीघ्र सरकार ऐसे अधिकारीयों के ऊपर लगाम लगाएं। शिक्षकों के मानसम्मान को ठेस व अपमानित किया है।

शिक्षक सुशिक्षित कर स्वस्थ समाज की स्थापना के लिए नींव का पत्थर तैयार करता है। इस प्रकार के घटना व व्यवहार से शिक्षकों को अपमानित करने का काम किया गया, जिससे शिक्षक बर्दाश्त नहीं करेंगे। संगठन इसकी घोर निंदा करता है और ऐसे अधिकारी के साथ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए।