तीनो कृषि क़ानून को रद्द करने और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी को गिरफ्तार करने रायपुर रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शन

रायपुर (खबर वारियर) 3 सितम्बर को लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर वापस लौट रहे किसानों को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे द्वारा कार से कुचल कर हत्या कर दी गई थी। हालांकि मंत्री पुत्र की गिरफ्तारी हो चुकी है लेकिन मोदी सरकार द्वारा अजय मिश्र टेनी को मंत्री पद से अब तक बर्खास्त नही किया है जिसके कारण उसकी गिरफ्तारी भी नही हुई है। इसे लेकर संयुक्त किसान मोर्चा दिल्ली के देशव्यापी आह्वान पर 18 अक्टूबर को रेल रोको कार्यक्रम लिया गया था।

संयुक्त किसान मोर्चा दिल्ली के आह्वान पर छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के नेतृत्व में रायपुर रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम एस डी एम को ज्ञापन सौंपा गया।  इस प्रदर्शन के दौरान दो किसान नेता छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के संयोजक मंडल सदस्य जागेश्वर जुगनू चन्द्राकर और अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष मदन लाल साहू रेलवे ट्रेक के बीचों बीच पहुंच कर नारे बाजी करने लगे जिन्हें रेलवे पुलिस द्वारा रेलवे ट्रेक से बाहर निकाला गया।

रेल रोको कार्यक्रम में जिला किसान संघ बालोद के संरक्षक जनक लाल ठाकुर, छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के संयोजक मंडल सदस्य पारसनाथ साहू, भारतीय किसान यूनियन छत्तीसगढ़ के सचिव हरप्रीत सिंह रंधावा, अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के सदस्य हेमंत कुमार टंडन, अखिल भारतीय किसान खेत मजदूर संगठन के विश्वजीत हारोड़े, गजेंद्र सिंह कोसले, गोविंद चन्द्राकर आदि उपस्थित रहे।